Computer ka avishkar kisne kiya

Computer-Computer ka avishkar kisne kiya कंप्यूटर(Computer) एक मशीन या Electronic Device है जो कुछ तय निर्देशों के अनुसार तथा user द्वारा input किये गये Data में प्रक्रिया करके कार्य को संपादित करता है अर्थात user …

Computer ka avishkar kisne kiya - computer ka avishkar kisne kiya aur kab kiya

Table of Contents

Computer-Computer ka avishkar kisne kiya

कंप्यूटर(Computer) एक मशीन या Electronic Device है जो कुछ तय निर्देशों के अनुसार तथा user द्वारा input किये गये Data में प्रक्रिया करके कार्य को संपादित करता है अर्थात user द्वारा किये गये निर्देशों का पालन करता है |

Computer में data को स्टोर, पुनप्रार्प्त और प्रोसेस करने की क्षमता होती है और कंप्यूटर शब्द, लेटिन के शब्द “Computer” से लिया गया है जिसका अर्थ है गणना करना या calculation करना,

कंप्यूटर एक ऐसा मशीन है जिसमे आज अपने दस्तावेजों को टाइप करके ई-मेल से और कई अदर App से किसी दूसरे को भेज या Send कर सकते है तथा computer का उपयोग वेब ब्राउज करने, गेम खेलने में भी किया जाता है |

आज कल कंप्यूटर का प्रयोग ज्यादातर फिल्मों निर्माण, उधोग व्यापर, स्कूल, कॉलेज आदि में तथा रेलवे टिकट, होटल बुक और बैंको का काम कंप्यूटर की वजह से तेजी से हो रहा है |

कंप्यूटर(Computer) के मुख्य तीन काम कौनसे है?

Input Data

इनपुट(input) का काम Data को लेना जिसे Input कहाँ जाता है

Processing

यह Input Data को प्रोसेसिंग(Processing) करने का काम करता है

Output Data

इसका काम Processed Data को दिखाने का होता है जिसे Output कहते है |

Query :- कंप्यूटर(Computer) के तीन मुख्य काम कौनसे है?-Input Data-Processing-Output Data

कंप्यूटर(Computer) का आविष्कार किसने किया?

कंप्यूटर के आविष्कार में सबसे ज्यादा योगदान Charles Babbage ने दिया था वेसे तो लोगों के अनुसार Computing Field ने भी अपना योगदान दिया था तथा Charles Babbage ने सबसे पहले Programmable Computer का डिजाईन तैयार किया था |

‘डिफरेंशिअल इंजन’ नाम के मैकेनिक कंप्यूटर का आविष्कार सन् 1822 Charles Babbage ने किया था |

Query :- कंप्यूटर के आविष्कार में सबसे अधिक योगदान किसका रहा?-Computer के आविष्कार में सबसे अधिक योगदान Charles Babbage का रहा

भारत में कंप्यूटर का आविष्कार कब हुआ?

भारत की 2 संस्थाएं भारतीय सांख्यिकी संस्थान और जादवपुर यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों द्वारा सन् 1966 में मिलकर बनाया गया, उस कंप्यूटर(Computer) का नाम “ISIJU” रखा गया, इस कंप्यूटर में वेक्यूम ट्यूब की जगह ट्रांजिस्टर का इस्तेमालहुआ था |

Query :- भारत के पहला कंप्यूटर का नाम क्या रखा गया?-पहला कंप्यूटर का नाम “ISIJU” रखा गया

भारत का पहला कंप्यूटर कहाँ स्थापित किया गया?

भारत में पहला कंप्यूटर सन् 1952 में भारत के कोलकाता के भारतीय विज्ञान संस्था में पहला कंप्यूटर स्थापित किया गया लेकिन वर्ष 1956 में डिजिटल कंप्यूटर HEC-2M आया इसे ही भारत का पहला इलेक्ट्रोनिक कंप्यूटर माना गया

Query :- कौनसे देश के बाद भारत कंप्यूटर टेक्नोलॉजी में दूसरा स्थान बन गया?-एशिया में जापान के बाद भारत दूसरा कंप्यूटर टेक्नोलॉजी इस्तेमाल करने वाला देश बन गया |

विश्व का पहला कंप्यूटर का नाम क्या है?

विश्व का पहला कंप्यूटर सन् 1979 में अमेरिका में था उसका नाम क्रे के -1 एस था |

दुनिया के पहले कमर्शियल कंप्यूटर का आविष्कार कब किया गया?

इस कमर्शियल कंप्यूटर का आविष्कार दुनिया के पहले इलेक्ट्रॉनिक कंप्यूटर का आविष्कार करने वाले J. Presper Eckert and John Mauchly दो व्यक्तियों द्वारा किया गया था |

14 जनवरी 1951 को UNIVAC नामक दुनिया का पहला कमर्शियल कंप्यूटर लॉन्च किया गया. यूनीवैक का पूरा नाम “यूनिवर्सल ऑटोमेटेड कंप्यूटर” था |

इस कंप्यूटर को भी चलाने के लिए हजारों वेक्यूम ट्यूबस का इस्तेमाल होता था. सच कहा जाए तो आज के मॉडर्न कंप्यूटर्स की नींव इसी कंप्यूटर ने उस समय रखी थी |

Query :- दुनिया का पहला कमर्शियल कंप्यूटर लॉन्च कब किया?-14 जनवरी 1951 को लॉन्च किया |

कंप्यूटर के प्रकार

माइक्रो कंप्यूटर

माइक्रो कंप्यूटर ऐसा कंप्यूटर है जिसके सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट में माइक्रो प्रोसेसर होता है यह मिनी कंप्यूटर की तुलना में काफी कम जगह लेता है और यह कंप्यूटर छोटा होता है इसे केमरा में इस्तेमाल किया जाता है |

लैपटॉप

यह नोटबुक के आकार का होता है और इस कंप्यूटर को हाथ में उठाकर साथ ले जाने योग्य है यह पर्सनल कंप्यूटर के समाना कार्य करता है |

मेनफ्रेम

बहुत अधिक स्मृति क्षमता (रैम), मल्टीपल सीपीयू के साथ चलने वाले कंप्यूटर विभिन्न प्रकार की संगणना करते हैं जो प्रॉसेसर की गति (तेज) और मेमोरी के इस्तेमाल पर निर्भर करता है।

एनालॉग

यह पुराने कंप्यूटर है यह एकमात्र भौतिक मात्राओं की गणना करते है एनालॉग कंप्यूटर ऐसा उपकरण है जो लगातार भौतिक परिवर्तनों का इस्तेमाल कर संगणना करते है और वास्तविक वस्तुओं के एनालॉग होते है एनालॉग कंप्यूटर उदाहरण के लिए गीयर्स के लगातार घूर्णन का इस्तेमाल कर सकते है |

हाइब्रिड

यह एक ऐसे कंप्यूटर है जिनमे दोनों की तरह ही (एनालॉग और डिजिटल) कंप्यूटरों की विशेषता होती है लेकिन इसका डिजिटल हिस्सा आमतौर पर कंट्रोलर की भूमिका निभाता है |

सुपर कंप्यूटर

यह कंप्यूटर काफी सारे एएलयू, मेमोरी वगैरम से लैस होता है आमतौर पर इसका उपयोग वैज्ञानिक शौध-कार्य में किया जाता है |

भारत में पहला प्रिंटिंग प्रेस कहाँ स्थापित हुआ था?

भारत में प्रिटिंग प्रेस की शुरुआत 30 अप्रेल 1956 में पुर्तगालियो ने किया, गेस्पर कालेज़ा द्वारा लिखे गये पत्र में पुर्तगाल से लायी जा रही प्रिंटिंग मशीन का जिक्र मिलता है।

यहाँ भी पढ़े :- Dragon fruit in Hindi

Sharing Is Caring:

3 thoughts on “Computer ka avishkar kisne kiya”

Leave a Comment